SEO Kya Hai: SEO Kaise Kare (Proven Ways)


SEO Kya hota hai
SEO Kya Hai- SEO Kaise Kare (Proven Ways)
 
अगर आपने Blogging start कर दी है तो आपके लिए ये article बहुत ही जायदा महत्वपुर्ण होने वाला है।

क्या आपको पता है की SEO Kya hai, Seo Ke Fayde Kya hai और SEO कितने तरह के होते है।

मैं जनता हूँ की अगर आप ब्लॉग्गिंग में बिलकुल ही नए है तो ये सब आपके लिए कुछ जयादा ही नया होगा।

पर आप चिंता मत कीजिये इस article को पढ़ने के बाद आपके सारे doubts clear हो जायेंगे और आपको किसी भी प्रकार का सवाल नहीं सताएगा SEO से जोड़ा हुआ । 

आपको मैं पहले ही बता देता हूँ की last में मैंने एक secret trick बताई है और एक FREE Gift भी रखा है।

इसलिए इस article को को बीच में न छोड़कर जाये।

चलिए अब जानते है की SEO Kya Hai?

SEO Kya Hai?

SEO का नाम तो आप लोगो बहुत ही जायदा सुन लिया होगा।  पर शायद आपको समझ में नहीं आया है की वास्तव में SEO Kya Hai और seo काम कैसे करता है।

आपके इस प्रश्न SEO Kya Hai का जवाब आपको आज यह पर मिलने वाला है।

मैं आपको बता दूँ की SEO एक तरह की practise होती है जिसकी मदद से हम Search Engine को ये जानने में मदद करते है की लिखा हुआ लेख किस बारे में है।

SEO सिर्फ लेख के लिए नहीं किया जाता बल्कि जितनी भी साइट्स या फिर pages इंटरनेट पर है उन सबको SEO करना ही होता है चाहे फिर वो एक post हो, एक article हो या फिर कोई website।

SEO का मतलब ये होता है की आप Google या फिर किसी और Search Engine में अपनी website या फिर blog को organic तरीके से रैंक करायें।

Organic क्या होता है इसके बारे में हम आगे बात करेंगे।

मुझे लगता है की अब आपको कुछ हद तक समझ में आ रहा होगा की SEO Kya Hota Hai.


Seo Ki Full Form:

आपने अभी ये तो जान लिया की सो Kya Hai पर आपको SEO की full Form का पता नहीं चला।

इसलिए में आपको बता दूँ की SEO की Full Form Search Engine Optimisation होती है |

अब आप ये सोच रहे होंगे की ये क्या चीज़ है और इसका क्या मतलब है।

Search Engine Optimisation का मतबल ये हुआ की आप अपने article या post को search engine के लिए optimize कर रहे है।

इसका का मतबल ये हुआ की आप अपने article या post को search engine के लिए optimize कर रहे है।

हिंदी में इसका ये मतलब निकलेगा की आपने अपने पोस्ट को Google में Rank करने के लिए उसका Google की Policy और data के अनुसार बना रहे है।

आये अब जानते है की SEO का क्या महत्व होता है।

SEO Kyu Important Hai?

 SEO के बहुत से फायदे होते है और हर आदमी, हर company और हर brand के लिए अलग फायदे हो सकते है।

SEO के फायदे निर्भर करते है SEO करने या SEO करवाने वाले पर। इसलिए इस लेख में सबसे ज्यादा common फायदों के बारे में बताने जा रहा हूँ।

SEO के फायदे निम्नलिखित है:

  1. SEO की मदद से आप अपने blog और post को Google में रैंक (Rank) करा सकते है।
  2. SEO से आप अपने Blog पर traffic ला सकते है।  ट्रैफिक का मतलब यह पर audience aur readers (पाठक) है।
  3. SEO से आप अपना brand बना सकते है।
  4. SEO की मदद से आप अपनी income (आमदनी) भी बढ़ा सकते है।
  5. SEO की मदद से आप अपने लिए अच्छे और loyal (जिनको आपकी चीज़ अच्छी लगती हो) गिराहक भी ढूंढ सकते है।
  6. SEO की मदद से आप अपने post को viral (प्रसीद) भी  कर सकते है।
  7. SEO की मदद से आप जयादा और नए लोगो तुक पहुँच सकते है। 
मुझे उम्मीद है अब  आपको समझ में आ गया होगा की SEO Kya Hai और SEO kyu jaruri hai.


अब बात करते है की organic और inorganic ट्रैफिक क्या होता है।

Organic VS Inorganic traffic:

Organic  और inorganic  दोनों ही बहुत ही जायदा अलग ट्रैफिक होते है।

इन दोनों के बारे में हम एक के बाद एक बात कर्नेगे ताकि हम अच्छे से समझ सके की Organic Traffic kya hai और Inorganic traffic kya hai.

Organic Traffic Kya Hai? 

अगर मैं बात करू की organic traffic क्या है।  तो में ये बस ये ही कहूंगा की जो traffic Google या किसी और सर्च इंजन (search engine) से आये वो organic होता है।

इसको आर्गेनिक इसलिए कहता है क्युकी organic का मतलब science में तो शरीर से सम्बंधित होता है, ठीक उसी तरह SEO में जो शरीर होता है वो Search Engine ही होता है।

और Search Engine ही traffic लाने और न लाने के लिए जिम्मेदार होता है।

अगर आपने अच्छे से SEO किया हुआ है  तो बेशक आपके ब्लॉग पर organic traffic जयादा होगा।

Organic Search traffic की SEO में बहुत ज्यादा जरूरत होती है। और organic traffic को best traffic भी मन जाता है। 

इसके बहुत से कारण है पर सबसे बड़ा कारण जो है वो ये है की आर्गेनिक traffic एक तो उसकी चीज़ को पढ़ने के लिए आया है। 

जिसका  साफ़ मतलब ये हुआ की वो आपकी site या blog पर देर तुक रुकेगा और अगर उसको आपका काम अच्छा लगता है तो वो आगे भी आपके आने वाले लेख पढ़ेगा।

जिससे आपको और भी जयादा traffic आने के chances हो जायेंगे।

दुरसी बात ये है की Organic traffic से जायदा earning (कमाई) होती है।  और अगर आप AdSense उसे करते है या फिर करेंगे तो में आपको बता दूँ की  AdSense भी कहीं न कहीं organic को ही पसंद करता है। 

Inorganic Traffic Kya Hai?

Inorganic traffic की बात करे तोह Inorganic organic से बिलकुल अलग होता है।

Inorganic एक एक भी user /traffic Search engine से नहीं आता। बल्कि सारे के सारे यूज़र्स या फिर Readers Ads के जारी से आते है

Inorganic Traffic लाना ज्यादा आसान होता है अगर हम organic traffic से compare करे तो। 

Inorganic traffic से आप अगले एक घंटे में भी 1000 traffic ला सकते है और इसमें बस आपको Ads run करवाने होते है। 

जो readers होते है वो उन ads को देखते है और आपके blog पर आ जाते है Ads पर click करने के बाद।

आपको इसमें पैसे लगाने होते है और अगर आप ब्लॉग्गिंग में बिल्कुल नए है तो inorganic  traffic आपके लिए फायदेमन्द साबित नहीं होगा और हो सकता  है की आपकी जेब से सिर्फ पैसे जाये और आप earnings भी स्टार्ट न कर पाए।

इसलिए में आपको ये ही सुझाव दूंगा की जितना हो सकते organic rankings और organic ट्रैफिक के लिए मेहनत कीजिये।

इसका फायदा आपको लम्बे समय तक मिलेगा और इससे जो कमाई होगी वो भी अच्छी होगी।

अगर आप Inorganic Traffic लाना चाहते है अपने blog पर क्युकी आपकी ranking अभी शुरू नहीं हुवी है तोह आप Forums या फिर Social media जैसे प्लेटफार्म का use भी कर सकते है।


Seo Ke Kitne Types Hai?

अब आपने SEO Kya hai और ये ट्रैफिक लेन में कैसे मदद क्र सकता है ये तोह जान लिया है। पर क्या आप ये नहीं जाना चहेंगे की SEO कितनी तर का होता है। 

मुझे लगता है आपके मन में ये सवाल जरूर आ रहा होगा, इसलिए मैं आपको इसके बारे में भी गहरी से बाटूंगा। 

SEO निम्नलिखित 6 तरह का होता है:

  1. On-Page SEO
  2. Off-Page SEO
  3. Local SEO
  4. Black Hat SEO
  5. White Hat SEO
  6. Grey Hat SEO 
इसमें से भी जो सबसे ज्यादा important (मत्वपूर्ण) होता है वो होता है On-Page SEO और Off-Page SEO. अब हम इन सबके बारे में और भी ज्यादा जानने जा रहे है।

 मुझे उम्मीद है की आपको article अच्छा लग रहा होगा  |


Types Of SEO in Hindi
Types Of SEO in Hindi

 


On-Page SEO Kya Hai?

On-Page SEO सबसे ज्यादा मत्वपूर्ण SEO होता है और यदि आपने इसमें ही गलती कर दी तो हो सकता है की आप कभी भी Google में Rank न करे। इसलिए आपको इसको  सीखने बहुत ही जरुरी है।

मैं इस article में तो On-Page SEO के बारे में बताऊंगा ही पर साथ ही साथ मैं इस On-Page SEO Kaise kare आर्टिकल में भी इसमें बारे में अच्छे से बताऊंगा ताकि आप अच्छे से On-Page SEO करना सीख जाये।

तो On-Page SEO में सारा काम keywords का होता है। आप जितने अच्छे से Keyword Research करेंगे उतना ही बेहतर आपका post रैंक होगा।

अगर आपको ये नहीं पता की Keyword Kya Hai तो आप ये आर्टिकल पढ़ सकते है। और यदि आपको जानना है की Keyword Research Kaise Kare तो आप ये article पढ़ सकते है।

On-Page SEO में जो सबसे पहले चीज़ आती है वो होती है वो keyword होती है।  आप जितने अच्छे से keyword को उसे करे हो उठा ही अच्छा आपका आर्टिकल रैंक करता है।
जितना भी काम आप अपने Page/post  पर करते हो वो सारा on-page में जिना जाता है।

आपको एक अच्छा सा article लिखना होगा जिसमे उस टॉपिक की सारी जानकारी हो और उसमे कीवर्ड्स को अच्छे से रखना होगा ताकि पढ़ने वाले को ऐसा भी न लगे की सामने वाले व्यक्ति ने Keyword ही add किये हुए है और कुछ अच्छा भी नहीं लिक रखा।

बहुत से बार लोग आर्टिकल में हर 2 line के बाद keyword add करे है और सोचते है की जितनी बार वे keyword Add करेंगे  उतना ऊपर ही उनका article रैंक करेगा।

पर ये बात गलत है आपको आर्टिकल में बहुत ही होसियारी के साथ Keywords को ऐड करना होता है।  जैसे की आप निचे दी हुई तस्वीर में देख सकते है।  आप एक बार ये article जरूर पढ़े इससे आपके Keywords, और Keyword Ko kaise use kare सरे सवाल दूर हो जायेंगे। 

On Page Seo Kaise Karte Hain
On-Page Seo Kya Hai

अगर आप off-page ना करे एक बार को तो चेलगा पर अगर आप on-page ही नहीं करते तो चाहे आप technical SEO करें या कोई और SEO कोई फायदा नहीं होगा।

 

Off-Page Seo Kya Hai?

अब बात करते है Off-Page SEO की। 

Off-Page SEO सबसे मुश्किल SEO का पार्ट होता है और बहुत से लोग इसको कभी भी कर नहीं पते है। 

और जिस आदमी ने भी यह अच्छे से सीख लिया तो वह लगभग किसी भी आर्टिकल को आसानी से रैंक करा सकता है।

Off-Page SEO करने के लिए आपको दूसरे लोगो किउ साहयता लेनी होगी।  

Off-Page SEO के लिए आपको  link bulding करनी होगी और अगर आपको ये नहीं पता की Link Buliding kya hai या Backlinks Kya Hai तो आप ये article पद लीजिये इससे आपके सारे Doubts clear हो जायेंगे।
Backlinks आपको दूसरी websites या blogs से लेने होते है।  कम शब्दो में कहूं तो आपको दूसरी websites से अपनी website के लिए links लेने होंगे।

इसके लिए आपको दूसरी वेबसाइट वालो से बात करनी होगी और उनको कहना होगा की आपको एक link दे और जाहिर सी बात है आपको link के लिए मेहनत तो करनी ही होगी क्युकी कोई भी इतनी आसानी से कुछ नहीं देता।

Off-Page SEO की मदद से आप Google को ये दिखाते हो की आपको और लोग भी पसंद करते है |

और आप अच्छा content अपने बोग पर डालते हो जिसके कारण Google आपके article को और अच्छे से रैंक करना शुरू कर देता है। 


मुझे उम्मीद है की आपको समझ में आ गया होगा की Off-Page SEO Kya Hai और अगर आपको और भी ज्यादा जानना है Off-Page SEO के बारे ने तो आप Off-Page SEO Kya hai आर्टिकल को पढ़ सकते है। 

Link Building Kya hoti hai aur iska kya fada hota hai
Off-Page SEO Kya Hai

Local SEO Kya Hai? 

Local SEO बहुत की काम लोग जानते है और इसको करने का तरीका बहुत ही अलग होता है।

Local SEO की मदद से आप अपने लोकल (आस-पास) के area me जल्दी rank करते है। 

Local SEO karte huve aadmi
Local SEO kya hai


इन दिनों में voice search बहुत ज्यादा उसे किया जाता है और साथ ही साथ ये भी सर्च किया जाता है की मेरे पास में कोई खाने की दुकान और ऐसा ही कुछ।

इन सभी searches में मेरे पास शब्द या फिर near me जैसे शब्दो का इस्तेमाल किया जाता है।  

पर Google को कैसे पता चलेगा की आपके पास से आपका क्या मतलब है और आप कोनसी जगह पर हो और उस जगह पर क्या कुछ है। हैना !
ये सब कुछ सुलझाने के लिए Local SEO का इस्तेमाल करते है। 

अब मान लीजिये की आपके पास में एक coffee shop (कॉफ़ी शॉप ) है और उसको business  online ले जाना है ताकि वह आपने आस पास के customers तक आसानी से पहुंच सके और उनको home delivery भी दे सके।

तो वह अपना business Google  Business के साथ register करकर अपनी एक वेबसाइट बनाकर Google को बता सकती है की वो कहाँ है और कैसे बिज़नेस करती है और किस किस जगह तुक फैली हुई है। 

इससे Google, Business owner, और हमारा तीनो का फायदा है।

इसको को Local SEO कहता है और मुझे लगता है आपको समझ में आ गया होगा की Local SEO Kya hai अगर आप जानना चाहते ।है की Local SEO kaise kare तो आप मुझे बता सकते है।  मैं आपको वह भी सीखा दूंगा।

 

White Hat Seo Kya Hai?

 White Hat SEO Kese Kare

White Hat SEO Kya  Hai

White Hat SEO की बात करे तो White Hat SEO में सब कुछ आता है जो हम करते है।  on-page और Off-page seo और साथ ही साथ Technical SEO।  

White Hat SEO में सभी काम जो भी किया जाता है वो सब सही तरीके से किया जाता है।  और इसमें कोई भी गलत काम नहीं होता। 

White Hat seo में हर चीज़ का ध्यान ढका जाता है और इसमें reader का अच्छा ख्याल रखा जाता है की जब reader आये तोह उसे उसके topic या सवाल की साडी जानकारी मिल जाये।

Black Hat SEO Kya Hai?

Black-hat SEO White-hat SEO से बिलकुल उल्टा होता है।  इसमें सरे गलत रास्तो का इस्तेमाल किया जाता है।  इसमें reader और audience का बिलकुल भी ख्याल नहीं रखा जाता है। 

Black hat  Seo एक तरह की cheating होती है Google में जल्दी ही रैंक करने की। 

Black Hat SEO में PBN (Private Blog Network) और काफी सरे backlinks  बनाये जाते है। एक पोस्ट के लिए हज़ारो और लाखो Backlinks पर मैं आपको ये बता दूँ की जितनी जल्दी ये websites black hat  Seo  से रैंक करती है उतनी ही जल्दी out-rank भी हो जाती है।

Google के पास AI (Artifical Intelligence) है और वो इसको अब आराम से पेचान लेती है और साथ ही साथ PBN  में जितनी भी websites है सबको बन कर देती है।

इसलिए इसको करना सही नहीं है।
Black Hat SEO Kya Hai
White Hat SEO Kya  Hai



Grey Hat SEO Kya Hai?

Grey hat seo में कुछ चीज़ो तो white hat seo की इस्तेमाल होती है और कुछ black hat SEO की जैसे की अच्छा content लिखना white hat seo में jayega और बहुत सारे backlinks बनाना Black hat Seo में। 

ये भी इतना अच्छा नहीं होता जितना White Hat SEO होता है। 

 इसलिए में आपको ये ही सुझाव दूंगा की आपको हमेशा White hat  SEO पर ध्यान देना चाहिए।

Seo Kaise Kare?

SEO Kaise Kare ये सवाल बहुत ही ज्यादा पूछे जाने वाले सवालो में से एक है इस लिए में इसपर पूरा एक आर्टिकल लिखने वाला हूँ और आप उस आर्टिकल को जरूर पढ़े। 

SEO Kaise Kare अगर आपको भी ये जाना है तो आप बस ये 4 चीज़ो पर ध्यान दीजिये और आपका SEO का basic हो जायेगा।
  1. आप अपने article/post की word Counts (शब्दो की गिनती) अपने competitor से ज्यादा रखें।
  2. आप Easy To Rank Keywords ढूंढे जिनकी SEO difficulty 10 से कम हो। (इसके बारे में जानने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर पढ़े )
  3. आप Images को optimize  करें।
  4. और अंत में आप अपने Title, और Meta Tags में अपना Keyword use करे।
मैंने यह पर सिर्फ कुछ ही points  बातये है आपको ये जानने के लिए की SEO Kaise Kare इसके लिए ये article पढ़ना होगा।

Conclusion:

आपने अब ये जान लिया है की SEO Kya hai और SEO kaise kare।  और मुझे उम्मीद है की आपको सब अच्छे से समझ में गया होगा और अब आप blogging  में अपना पहला article लिखने के लिए ready हो गए होंगे और अगर आपको जानना है की Blogging Kaise Kare तो आप ये पोस्ट पढ़ सकते है। ।

SEO Kya hai अगर आपको अभी भी इसको लेकर कुछ परेशनी या सवाल है आप हमसे comment box में पूछ सकते है और यदि आपको किसी और चीज़ पर चाहिए हो तो आप हमे वह भी बता सकते है।

यदि आपको यह लेख अच्छा लगा तो आप इसको अपने FaceBook, या Twitter पर जरूर शेयर करें।

Post a Comment

0 Comments